Letest News

SIM Port Kaise Kare : बिना फोन नंबर बदले कंपनी करें चेंज! जानें MNP का फास्ट तरीका

मोबाइल नंबर पोर्ट करना बहुत आसान है। आप अपने एरिया के बेस्ट नेटवर्क वाले कंपनी में बिना झंझट फ्री में नंबर पोर्ट करवा सकते हैं। इस प्रोसेसर को Mobile Number Portability यानी MNP कहते है।

SIM Port Kaise Kare : इंडियन टेलीकॉम मार्केट की गलाकाट प्रतिस्पर्धा किसी से छिपी नहीं है। Reliance Jio, Airtel और Vodafone Idea (VI) समेत देश की सरकारी दूरसंचार कंपनी BSNL भी इसी प्रयास में लगी है कि अधिक से अधिक ग्राहकों को खुद से जोड़ा जाए। ये कंपनियां नहीं चाहती हैं कि कस्टमर्स इनका नेटवर्क छोड़कर दूसरी कंपनी को चुनें। लेकिन फिर भी कई बार ऐसा होता है कि एक आम आदमी अपनी टेलीकॉम कंपनी के नेटवर्क, इंटरनेट व अन्य सर्विस से इस हद तक परेशान हो जाता है कि वह उसे छोड़ देना चाहता है। अपनी मोबाइल कंपनी और नेटवर्क से परेशान ऐसे ही उपभोक्ताओं के लिए आज हम ऐसा आसान सा तरीका लेकर आए हैं जिसके जरिये वह घर बैठे बैठे अपने मोबाइल नंबर को दूसरी कंपनी के साथ जोड़ सकते हैं। यह तरीका Mobile Number Portability यानी MNP कहलाता है।

बिना नंबर बदलें कंपनी होगी चेंज

मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी की सबसे बड़ी खूबी यही है कि इसमें यूजर को अपना मोबाइल नंबर बदलना नहीं पड़ता। यानी उपभोक्ताओं को फोन नंबर तो वही रहता है लेकिन उसका ऑपरेटर यानी कि मोबाइल कंपनी बदल जाती है। MNP सर्विस मोबाइल यूजर को मौका देती है कि वह अपनी मर्जी के अनुसार अपनी मोबाइल कंपनी भी चुन सकते हैं। ग्राहकों जिस कंपनी को पसंद करते हुए उससे जुड़ना चाहते हैं, वह मोबाइल कंपनी अपनी खुद की सिम मुहैया कराती है जिसमें मोबाइल नंबर वही पहले वाला होता है।

PostPaid नंबर भी कर सकते हैं पोर्ट

बिना फोन नंबर बदले कंपनी करें चेंज! जानें MNP का फास्ट तरीका

PrePaid के अलावा PostPaid दोनों तरह से यूजर्स एमएनपी सर्विस का लाभ उठा सकते हैं। ऐसे में जो ग्राहक अपने मौजूदा टेलीकॉम नेटवर्क को छोड़कर दूसरी कंपनी से जुड़ने की योजना बना रहे हैं, उनके लिए आगे हमनें बताया है कि किस तरह से एक कंपनी के नंबर को दूसरी कंपनी के नंबर में बदला जा सकता है।

भारत में टेलीकॉम कंपनियां

  • Jio
  • Airtel
  • VI (Vodafone Idea)
  • BSNL (Bharat Sanchar Nigam Limited)
  • MTNL (Mahanagar Telecom Nigam Limited)

इन स्टेप्स से होगा घर बैठे नंबर पोर्ट

– अपने फोन के SMS बॉक्स में जाकर नया मैसेज लिखने का ऑप्शन खोलें।

– यहां PORT और एक स्पेस देकर अपना मोबाइल नंबर टाईप करें। उदाहरण : PORT 901#####88

– मैसेज टाईप हो जाने के बाद इसे 1900 नंबर पर भेज दें।

– मैसेज सेंड होते ही आपको एक नया मैसेज प्राप्त होगा जो 1901 नंबर से आया होगा।

– बता दें कि आपको यह पोर्टिंग कोड तब ही प्राप्त होगा जब फोन बिल पूरी तरह से पेड होगा।

– 1901 नंबर से प्राप्त हुए मैसेज में 8 अंको का यूनिक कोड होगा। इसे पोर्टिंग कोड या UPC भी कहा जाता है।

– इस 8 अंको के कोड में शुरू के दो इंग्लिश के अलफ़ाबेट होंगे और बाकी 6 डिजिट होंगी।

– बता दें कि यह पोर्टिंग कोड कुछ दिनों के लिए ही मान्य होता है और इस दिनों के भीतर ही इस कोड को यूज़ किया जा सकता है।

– इस यूनिक पोर्टिंग कोड को उस कंपनी के आउटलेट या स्टोर पर लेकर जाना है, जिस कंपनी के नेटवर्क पर आप अपना नंबर बदलवाना चाहते हैं।

– आउटलेट पर एप्लीकेशन फॉर्म भरवाया जाएगा और इसके साथ ही नई सिम दे दी जाएगी। आज कल दूरसंचार कंपनियां होम डिलीवरी भी करती है और ये सभी प्रोसेस डोर स्टेप भी होने लगे हैं।

ravicmg10

Hello everyone Iam Ravi year old web devloper, web designer i have completed 10+12 and currently working on article writing and making content.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
x